कैसे बढ़ाएं अपने क्रेडिट कार्ड की लिमिट

13 Aug 2020 5 min read
Credit Card: जानिए क्रेडिट लिमिट बढ़ाने के तरीके

आप में से बहुत से लोगो के पास ऐसे ईमेल आते होंगे "आपकी क्रेडिट कार्ड की लिमिट बढ़ा दी गयी है” |एक तरफ जहाँ आप यह सोच कर खुश हो जाते होंगे कि आपके पास अब ज्यादा पर्चासिंग पावर आ गयी है, वही दूसरी तरफ आप सोच रहे होंगे आखिर यह क्रेडिट लिमिट कैसे बढ़ गयी| अगर आप के साथ ऐसे हुआ है या होता है, तो चिंता ना करें क्यूंकि बैंक आपके खर्च करने की आदतों और आपके खाते पर नज़र रखती है। और कुछ मामलों में क्रेडिट लिमिट को देती है।

हमें पूरा यकीन है; लगभग आप में से अधिकांश लोग उच्च क्रेडिट स्कोर रखना चाहते हैं। तो, इस ई-मेल की प्रतीक्षा न करें और अपने कार्ड लिमिट को विभिन्न निचे दिए तरीकों से बढ़ायें| लेकिन उससे पहले ये जानना होगा की बैंक आपके कार्ड की लिमिट कैसे निर्धारित करती है|

प्रत्येक क्रेडिट कार्ड की एक क्रेडिट लिमिट होती है, जो यह तय करती है कि कोई व्यक्ति हर महीने कितना खर्च कर सकता है। बैंक इस क्रेडिट लिमिट को आपके द्वारा दी जाने वाली जानकारी के आधार पर निर्धारित करती है, जैसे कि आपकी मासिक आय, आयु, लिंग, व्यवसाय इत्यादि।

जब आप चुने गए बैंक में अपने क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन करते हैं और उसी के लिए अपने संबंधित दस्तावेज जमा करते हैं, तो बैंक विभिन्न दृष्टिकोणों से इसका विश्लेषण करती है। आपके आय स्रोत और रीपेमेंट हिस्ट्री आपको आपके क्रेडिट कार्ड पर उच्च क्रेडिट लिमिट प्राप्त करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। बढ़ी हुई क्रेडिट लिमिट आपको अधिक खर्च करने की स्वतंत्रता देती है और यह प्रमाण है कि आपने क्रेडिट कार्ड का उपयोग जिम्मेदारी से किया है। 

आप ध्यान रखें खराब क्रेडिट स्कोर जैसे ईएमआई का पुनर्भुगतान या बिल्स का देर से भुगतान, निम्न-आय स्तर आदि, आपको शुरुआती दिनों में कम क्रेडिट लिमिट को मंजूरी दे सकते हैं। हालांकि, यदि आप अपने क्रेडिट कार्ड का उपयोग बुद्धिमानी से करते हैं और समय पर सभी भुगतान जिम्मेदारी से करते हैं, तो क्रेडिट कार्ड की लिमिट बढ़ाई जा सकती है।

क्रेडिट लिमिट बढ़ाने के विभिन्न तरीके यहाँ दिए गए हैं।

1. क्रेडिट कार्ड लेंडर से अनुरोध करना -

कुछ क्रेडिट कार्ड लेंडर, आवेदक के अनुरोध पर क्रेडिट लिमिट बढ़ा देते हैं। क्रेडिट कार्ड राशि में वृद्धि के लिए आप बैंक की वेबसाइट पर लॉग इन करें और अपना रिक्वेस्ट दर्ज करें। आप संबंधित बैंक के पास उपलब्ध ग्राहक सेवा सुविधा को भी कॉल कर सकते हैं और अपनी क्रेडिट कार्ड की लिमिट में वृद्धि के लिए अनुरोध कर सकते हैं।

2. सिबिल स्कोर को बढ़ाना –

रेंज

ग्रेड

750+

एक्सीलेंट

700-749

गुड

650-699

फेयर

550-649

पुअर

550 & below

वैरी पुअर

 

जैसा की आप देख सकते हैं - 700 से ऊपर सिबिल स्कोर रखना आपके लिए अच्छा है| 

उच्च क्रेडिट स्कोर आपके क्रेडिट लिमिट को बढ़ने में सहायक हो सकता है। क्रेडिट कार्ड के लिए आवेदन करने से पहले यह आवश्यक है कि आप अपने पिछले बकाया और ऋण का समय पर भुगतान कर दें।  आपका क्रेडिट यूटिलाइजेशन रेसिओ आपके क्रेडिट स्कोर को प्रभावित करता है| यदि आपका क्रेडिट यूटिलाइजेशन रेसिओ 0% है तो इसका मतलब यह है कि आप अपने उपलब्ध क्रेडिट का उपयोग नहीं कर रहे हैं। आमतौर पर, एक अच्छा क्रेडिट उपयोग अनुपात 30% से कम होना चाहिए| इसका मतलब है कि आप कुल उपलब्ध क्रेडिट का 30 प्रतिशत से कम का उपयोग कर रहे हैं|

3. क्रेडिट लिमिट बढ़ाने के लिए लेंडर से सालाना अनुरोध –

ज्यादा तर लेंडरस क्रेडिट लिमिट पर सालाना विचार करके उसे बढ़ाते हैं| अगर समय पर आप बिल्स की भुगतान कर रहे हैं, तो आप अपने बैंक से क्रेडिट लिमिट को बढ़ने का अनुरोध करें|

4. इनकम बढ़ने पर अपडेट -

अगर आप की इनकम में बढ़ोतरी हुई है तो आप अपने बैंक को इसपर अपडेट करें| बैंक मौजूदा क्रेडिट कार्ड पर आपकी लिमिट बढ़ा सकती है या आपको उन्नत क्रेडिट के साथ एक नया क्रेडिट कार्ड जारी कर सकती है|

5. नए क्रेडिट कार्ड के लिए अप्लाई करना –

आप नए कार्ड के लिए अप्लाई करके अपनी क्रेडिट लिमिट को अधिक कर सकतें हैं| यदि आपने अपने पिछले क्रेडिट कार्ड के बिल्स का समय पर भुगतान किया है और उपयोग क्रेडिट लिमिट के भीतर किया है, तो आपको नया क्रेडिट कार्ड  प्रदान करने में बैंक को कोई समस्या नहीं होगी।

6. धैर्य रखें -

नए क्रेडिट कार्ड के अनुरोध करने से पहले कम से कम 6 महीने तक कि प्रतीक्षा करें

क्रेडिट कार्ड की लिमिट आपके क्रेडिट स्कोर को कैसे प्रभावित करती है?

किसी व्यक्ति का क्रेडिट स्कोर बैंक द्वारा निर्धारित लिमिट के अनुसार क्रेडिट कार्ड के उपयोग पर निर्भर करता है। हर महीने आपकी क्रेडिट लिमिट और क्रेडिट का उपयोग क्रेडिट ब्यूरो को सूचित किया जाता है। इस जानकारी के आधार पर, एक अनुपात की गणना की जाती है, जिसे क्रेडिट यूटिलाइजेशन रेशियो कहाँ जाता है। आम तौर पर 10 से 30 फीसदी का अच्छा अनुपात माना जाता है। एक उत्कृष्ट क्रेडिट स्कोर हासिल करने के लिए, क्रेडिट उपयोग अनुपात को कम रखने की रिक्वेस्ट की जाती है। अधिक क्रेडिट लिमिट का उपयोग आपके स्कोर के लिए बुरा है|आपातकालीन समय के दौरान ही आप अपनी क्रेडिट लिमिट का पूर्ण उपयोग करें|

क्रेडिट कार्ड की लिमिट बढ़ाने के लाभ

1. आपातकाल के समय प्रभावी -

बिना पूर्व सूचना के जीवन में गंभीर परिस्थितियाँ उत्पन्न हो जाती हैं। कोई आर्थिक स्थिति से निपटने में सक्षम हो भी सकता है और कोई नहीं भी। ऐसी स्थितियों में क्रेडिट कार्ड बचाव के लिए आते हैं|

2. भत्ते और लाभ 

उच्च क्रेडिट लिमिट वाले क्रेडिट कार्ड अतिरिक्त भत्तों और लाभों के साथ आते हैं। मूवीज, शॉपिंग, और ट्रेवल पे एक्सक्लूसिव डील्स होते हैं|

3. ऋण की आसान उपलब्धता 

अच्छे क्रेडिट स्कोर पर ऋण आपको सरल रूप से उपलब्ध हो जाता है| इसके अलावा आपको पर्सनल लोन प्रतिस्पर्धाही व्याज दरों पर प्राप्त हो जाता है|

आपको बढ़ी हुई क्रेडिट कार्ड लिमिट को अस्वीकार क्यों नहीं करना चाहिए?

उदाहरण 1

पुराने क्रेडिट कार्ड की लिमिट = 80,000

क्रेडिट यूटिलाइजेशन = ₹ 40,000

क्रेडिट उपयोग अनुपात = 50%

उदाहरण 2

संशोधित क्रेडिट कार्ड लिमिट = 12,00,00

क्रेडिट यूटिलाइजेशन = ₹ 35,000

क्रेडिट उपयोगिता अनुपात = 29%

इस उद्धरण से हम यह समझ सकतें हैं कि क्रेडिट कार्ड सिमा में वृद्धि आपके क्रेडिट उपयोग अनुपात को काफी कम कर सकती है| जिससे कि आप को पर्सनल लोन सरल रूप से और प्रतिस्पर्धी व्याज दरों पर प्राप्त हो सकता है|

भारत में क्रेडिट कार्ड की अधिकतम लिमिट क्या है?

आवेदक के क्रेडिट कार्ड की लिमिट पूरी तरह से उसकी आय, आयु और पुनर्भुगतान क्षमता पर निर्भर करती है। आमतौर पर, अधिकांश बैंक लिमिट ₹10,000,00 तक कि अधिकतम क्रेडिट लिमिट प्रदान करते हैं।

यहाँ पढ़े - पर्सनल लोन ईएमआई कैसे कैलकुलेट करें?

credit card limit
credit limit
credit score
Check your Eligibility
To check how much loan you can get.
Verify

Didn't receive otp? Resend


blognews
Helpline Number
+91-11-23978046
Covid 19
Global
0
Covid 19
India
0